backlinks क्या होता है,

Backlinks Kya Hain Aur Yah SEO ke Liye Jaruri Kyu Hai

Blogging में Search Engine Optimization के नजरिये से Backlink एक बहुत ही अहम भूमिका निभाता है। बहुत सारे Bloggers जिन्होंने अभी Recently ही अपना Blog या Website शुरू किया है उनको बहुत ज्यादा doubt होता है की Backlink क्या होता है? Backlink कैसे बनाते है? और Blogging के लिए Backlink कितना महवत्पूर्ण है? तो आज हम इसी बारे में बात करने वाले है और कोशिश करेंगे कि Backlink से जुडी सभी जानकारी आपको मिल जाये और आपको फिर किसी भी अन्य Website पर इसके बारे में खोज न करना पड़े।

backlinks क्या होता है,
What is Backlink in Hindi

जब हम बात करते है अपने Blog को Rank कराने के लिए तो सबसे पहले ख्याल आता है SEO का। SEO Blog Post को Rank करने में काफी मदद करता है। अब SEO की मदद से अगर Post को Rank कराने के बारे में सोचते है तो जो अगला सबसे Important Factor आता है वो है Backlink.

जो लोग बहुत समय से Blogging कर रहे है उनको पता होगा की Backlink क्या होता है, Backlink कितने प्रकार का होता है और backlink कैसे बनाये? लेकिन नए लोगो का क्या? उनको भी जानना उतना ही जरुरी है जितना दूसरे जानते है तो चलिए शुरू करते है बिना समय गवाए की Backlink क्या है, कैसे बनाये और ये कितने प्रकार के होते हैं?

Backlink क्या है? – What is Backlink in SEO?

अगर Simple शब्दों में बात करे तो जब भी कभी कोई Website या Webpage से दूसरे Website या Webpage पर कोई Link जाता है तो वह Backlink कहलाता है।

हम साथ ही साथ यह भी कह सकते है की Website या Blog पर Incoming Link को Backlink कहते है।

Types of Backlink in Hindi : बैकलिंक के प्रकार

Terms of Backlink के बारे में जांनने से पहले चलिए हम सबसे पहले ये जान लेते है की Backlink कितने प्रकार के होते है?

अगर हम Types of Backlink in Hindi की बात करे तो Google के मुताबित Backlink मुख्य रूप से दो प्रकार के होते है:-

  1. Dofollow Backlink
  2. Nofollow Backlink

#1 Dofollow Backlinks

अगर हम बात करे की Dofollow Backlink को क्यों बनाया गया और इसकी क्या जरुरत पड़ गई थी। तो हमें सबसे पहले ये जानना होगा की Dofollow Backlink कब लागु किया गया था? उसके बाद बात करते है की इसकी जरुरत क्यों पड़ी?

Backlink Kaise बनाते है, backlinks क्या होता है
What is Backlink in Hindi

जब Google ने देखा की Search Engine में spam link बहुत ज्यादा index होने लगी तो इसी को काम करने के लिए Google ने सन 2005 में Dofollow को लागु किया। इसके जरिये Google Search Engine में Spam Link के Index होने को काम कर सकता था और साथ ही साथ Search Engine के परिणामों को और बेहतर बनाने की कोशिस की।

Also Read

Dofollow backlink क्या है? Dofollow Backlink जरूरी क्यों है।

हम Dofollow Backlink को Link Juice भी कहते सकते हैं। अगर हम Search Engine Ranking Position (SERP) के नजरिए से बात करे तो Dofollow Backlink किसी भी Blog या Website की SERP को बढ़ाने में बहुत ही अहम भूमिका निभाता है

मान लीजिए की कोई Web Page जो पहले से ही Google में Index है और वो Rank कर रहा है, और वहा पर एक दूसरे web page पर Dofollow link mention किया गया है, अब अगर Google Crowl अगर उस Web Page ko Crowl करने आएगा तो Dofollow link को देखकर उसको भी crawl कर लेगा जिससे नया web page भी Google में Index हो जायेगा। और इसी को Dofollow Backlink कहते हैं।

Dofollow Backlink का उदाहरण

<a href=”yourwebsite.com”>Link Text</a>

Benefits of Dofollow Backlink :

  • Page rank : Dofollow Backlink Google में Page को Rank कराने में बहुत मदद करता है।
  • Authority : इस Link की मदद से आप अपने Blog या website की Authority को Improve कर सकते है।

#2 Nofollow Backlink

अब जैसा की हम सबने जाना की Dofollow Backlink क्या होता है, तो अब Nofollow के नाम से ही में आशा करता हूं की आ समझ गए होंगे की Nofollow Backlink किसे कहते है। और जो नही समझे तो चलिए जान लेते है की Nofollow Backlink क्या होता है

जैसा की नाम से ही पता चलता है की No-Follow link मतलब की ऐसा link jise follow नही करना है, Nofollow link Dofollow link के बिल्कुल विपरीत होते हैं, ये juice link नही होते है। Google crawl/bots Nofollow link को crawl नही करते है, यह Google के search engine में कोई फर्क नही डालता है, और इससे आपको आपके वेब पेज के rank में भी कुछ मदद नही मिलता है।

Dofollow backlink के मुकाबले Nofollow Backlink आपको ज्यादा कुछ बेनिफिट नही देता है Rank कराने मे लेकिन इसका तात्पर्य यह नही की NoFollow Backlink किसी काम का नही है।

Nofollow Backlink की बात करे तो ऐसे बहुत सारे High Authority website है जहा से आपको Nofollow backlink मिल जाता है और वहा से आपको ट्रैफिक अच्छी खासी आ जाती है तो यह आपके ब्लॉग के लिए भी भूत महत्वपूर्ण है, तो याद रखे की Backlink बनाते समय Dofollow के साथ ही साथ Nofollow भी जरूर ले।

Nofollow Backlink कैसे लिखते है?

<a href=”http://mysite.com” rel=”nofollow”>My Site</a>

Benefits Of Nofollow Backlink :

  • Traffic : अगर आप एक बेहतरीन web page जो Google में Rank कर रहा है और उस पेज पर भरी मात्रा में Traffic आता है और वहा आपको Nofollow backlink ही मिलता हैं तो आपको ले लेना चाहिए क ट्रैफिक मिलता है
  • Safe to Penalize: Dofollow Backlink के साथ ही साथ Nofollow Backlinks बहुत ही अहम भूमिला निभाती है, Nofollow Link वेबसाइट के सतुलन बनाने में मदद करती है और ये आपके Blog या Website को Penalize होने से बचाता है।
  • DA/PA Improve : जैसा की आपको हमने बताया है Nofollow Backlink हमारे Webpage को Index करने में बिलकुल भी मदद नहीं करता है लेकिन अगर DA/PA या दूसरी जितनी में Metrics है उनको जरूर Improve करने में मदद करता है।

Difference Between Nofollow and Dofollow Backlink in Hindi?

जैसा की अभी हमने जाना की Dofollow और Nofollow Link क्या है तो उससे ही आपको एक अंदाजा मिल गया होगा की Dofollow और Nofollow Link में क्या अंतर है। अगर नहीं तो चलिए एक उदहारण के साथ इसको शामझते है:

Dofollow Backlink : अब आप ये सोचिये की आपके घर में आपके पिता जी या चाचा की कोई भी commissioner है तो इससे ही आपके Power का पता चलता है और आप उस Power का उसे जरूर करते होंगे।

Nofollow Backlink : अब की बार ये सोचिये की आपके पापा जी के मामा के बेटे यानि की दूर के रिस्तेदार commissioner है तो अब आपका उतना Power नहीं है और न ही पहले जैसा फायदा उठा सकते है। लेकिन अगर जरुरत पड़ी तो Support जरूर ले सकतरे है।

अब आशा करता हु की आपको समझ में आ गया होगा की Backlink kya hai? Backlink कितने प्रकार के होते है और ये जरुरी क्यों है? और साथ हो साथ आप Dofollow और Nofollow Backlink के क्या अन्तर है।

Also Read

Terms of Backlink in Hindi

चलिए अब हम बात क्र लेते है Backlink के कुछ ऐसे Common Factors और Terms के बारे में जिनके बिना Backlink अधूरा माना जाता है, और आपको इनके बारे में जरूर जानना चाहिए क्युकी ये कुछ ऐसे Backlink के Glossary है जिनको आप जरूर देखेंगे, तो चलिए सुरु करते है।

 

Backlink kya hai
What is Backlink in Hindi

Link Juice

जब किसी भी एक Webpage से किसी दूसरे Webpage पर कोई link flow होता है तो उसे हम Link Juice कहते है। Link Juice को आप Dofollow Link भी कह सकते है। और जैसा की Dofollow Backlink हमारे Webpage को Rank करने में मदद करता है ठीक उसी प्रकार से इस तरह के लिंक से हमारे वेबपेज को आसानी से रैंक करना जा सकता है और साथ ही साथ ये लिंक हमारे Domain Authority को भी बढ़ता है।

Low Quality Links

ऐसे links को harvested sites, automated sites, spam sites और  porn sites से आपके Site को Target करते है उन Links को Low Quality Links कहते है। इस तरह के link आपके blog या website के लिए काफी नुकसान-दायक होती है।

High quality links

ऐसे link जो किसी high DA, PA यानि की कोई Pupolar Site से आपके Site को Target करते है उन Links को High quality links कहते है। इस तरह के लिंक आपके ब्लॉग के लिए बहुत फायदेमंद साबित होते हेट है और आपके Blog को Rank कराने में अपना कीमती योगदान भी देते है।

Linking Root Domains

जब हम ये consider करते है की किसी Particular Domain से कितने Backlink को भेजा या Refer किया जा रहा है दूसरे Domain पर तो उसे Linking Root Domains कहते है।

उदाहरण के तौर पे मान लीजिये आपके अपने Blog के लिए किसी अन्य website से 5 Backlink लिए तो यह Linking Root Domain कहलाता है।

Internal Links :

ऐसे लिंक जो अपने ही किसी एक Webpage से दूसरे Webpage पर Refer करते है उसे Internal Links कहते है।

उदाहरण के तौर जैसे की मेरा https://technotiwarig.com ये मेरा एक Domain है और मई अपने इस domain के किसी एक Page से किसी दूसरे पेज पर Backlink देता हूँ (दूसरा Link भी same Domain पर ही होना चाहिए) तो इस Process को ही Internal Links कहते है।

Anchor Text

ऐसे Links जो की किसी Particular word के साथ में Attached होते है उसको Anchor Text कहते है। आप Hyperlinks को Anchor Text भी कह सकते है। ये Links ज्यादातर आपको किसी Focus Keyword जिसपे आप आपने Webpage को Rank कराना कहते है, उनपे देखने को मिलता है।

Note:

Quality Backlink में आपको ध्यान देना होता है की आप जिस भी site से Backlink ले रहे है वो site कितना authoritative और relevant sites है। इसका सीधा सीधा मतब ये है की आपका Blog जिस भी Niche पर बना है आपको उसी niche से जुड़े Blog से Backlink लेना होता है।

Backlinks बनाना जरुरी क्यों है? और इससे SEO में क्या फायदा होता हैं?

अगर आप ये Post यह तक पढ़ रहे है तो इसका मतब ये है की कही न कही आप भी जानते है की Backlink बनाना जरुरी क्यों है? तो हम इसी बारे में बात करेंगे और साथ ही साथ जानेगे की Backlink के क्या फायदे है और ये SEO को कितना effect करता है। लेकिन इन सबके बारे में जाने से पहले हम जान लेते है की किस तरीके के Backlink ज्यादा फायदेमंद है।

Backlink Kaise kare
What is Backlink in Hindi

जब backlink की शुरुआत हुई थी तब Low Quality Backlink की मदद से भी webpage रैंक कर रहे थे तब Google ने अपने Algorithm में कुछ बदलाव किये और सब कुछ चेंज हो गया।

अब Low Quality Backlink का कोई फायदा नहीं रहा बल्कि अगर आप इस तरह के link का इस्तेमाल करते है तो आपके website को penalize भी किया जा सकता है।

आपको Quality site से ही Backlink लेना जरुरी है। और साथ ही साथ आप जिस site से Backlink ले रहे है ये ध्यान जरूर दे की वो आपके मिलते जुलते niche पर ही हो।

Advantage of Backlinks on SEO in Hindi?

तो चलिए अब जानते है की Backlinks बनाना SEO के नजरिये से क्यों महवत्पूर्ण है :

Organic Ranking Improvement

Backlinks हमेश हमें better search engine rankings प्राप्त करने में मदद करता हैं। अगर आपका कोई भी Webpage, दूसरी साइट्स के Webpage से organic links प्राप्त करता है तो वह उस content को search engine में higher rank प्राप्त करने में अपना योगदान देता है।

Fast Indexing

जब आप किसी Index Webpage से Backlink लेते है तो Google का Crawl/Bot जब उस webpage को crawl करने आता है तब साथी साथ आपके साइट को भी Crawl कर लेता है, इससे आपकी Site भी जल्दी ही Index हो जाती है। जो नए Site होते है उनको जरूर backlink लेना चाहिए इससे जो न्य site है वो जल्द ही Index हो जायेगा।

Referral Traffic

जब हम किसी अन्य website पर अपने blog का link देते है तो वह से एक भरी मात्रा में हमे Referral Traffic मिलता है।

High Quality Backlinks Kaise Banaye?

जब भी कोई नया Blogger Blog बनता है तो उसके मन में काफी सारे सवाल होते है जिनमे से एक यस है की Backlink कैसे बनाते है? Backlink कहा से बनाते है? और भी बहुत कुछ तो चलिए अब हम बात करेंगे की Apne Blog ke liye Backlink Kaise Bnaye?
Note:
  • ध्यान रखे की SEO के नजरिये से  matter नहीं करता ही आपने कितने Backlink बनाये है, Matter ये करता है की बनाये गए Backlinks की Quality क्या है।
  • अगर आप Backlinks प्राप्त करने के लिए किसी भी तरह का Paid Service use करते है और तो Google के Algorithm के द्वारा आपको Penalized किया जा सकता है।

Backlink कैसे बनाते है ?

अगर आप ये जानना कहते है तो Backlink कैसे बनाये तो उसके लिए निचे दिए गए Points को ध्यान से पढ़े:
Guest Post Backlinks
“ऐसे Backlink जो किसी दूसरे के website पर post लिखकर आप backlink प्राप्त करते है, तो ऐसे Backlinks को Guest Post Backlinks कहते है।
Guest Post Backlinks ज्यादातर Anchor Tag के जरिये लिए जाता है और ये link एक Dofollow Backlink होते है। आज के समय में ये तरीका बहुत की कारगार साबित हुआ है। Guest Post Backlink की मदद से आपको Traffic तो मिलता ही है आपके site पर साथ ही साथ यह आपके SERP में Ranking Position को बढ़ने में भी मदद करता है।
Profile Backlink
ऐसे लिंक जोकि आपको किसी अन्य site पर Profile बनाने ले मिलता है। ऐसे backlink Dofollow और Nofollow दोनों तरह के होते है। और ये link आपको SERP में Top Rank करने में मदद करता है।
Comments Backlinks
ऐसे link जो किसी दूसरे site से comment के जरिये backlink प्राप्त करता है उसे Comments Backlinks कहते है। ऐसे backlink traffic बढ़ाने के नजरिये से काफी मददगार होता है।

कैसे पता करे की Link Dofollow है या Nofollow?

अभी तक हमें जाना की Backlinks जरुरी क्यों है? Backlinks के क्या फायदे है? Backlink कितने प्रकार के होते है? लेकिन इन अब हम जानेगे की Backlink Dofollow है या NoFollow.

Dofollow और Nofollow Backlinks कैसे डिटेक्ट करे :

#Backlink Dofollow है या Nofollow ये पता लगाने के बहुत सरे तरीके है जिनमे से हम आपको कुछ तरीको के बारे में बातएंगे, जिनको आप follow करके पता लगा सकते है की Link Dofollow है या Nofollow.

Backlink Kaise बनाते है
What is Backlink in Hindi
Method 1:
पहला तरीका बहुत ही आसान है पता करने का की Link किस प्रकार का है? जिसके लिए आपको निचे दिए गए steps को follow करना है:
#1 step: सबसे पहले उस पेज पे आ जाओ जिस पेज पे चेक करना है की backlink किस तरह का है।
#2 step: उसके बाद आपको Ctrl+U Press करना है अपने keyboard से अगर आप Mobile Phone में Check कर रहे है तो आपको अपने Browser inspect mode चालू करना है।
#3 step: अब आपको Ctrl+F press करके किसी link को search करना है और देखना है की कही उसमे “nofollowtag तो नहीं है।
Method 2:
आपको अपने Browser में एक Extension Install करना होगा जिसका नाम Nofollow Extension है, Install होने के बाद simply आप इससे किसी भी webpage पे जाकर check कर सकते है की Link Dofollow है या Nofollow.
मै आशा करता हु की आज आप Backlink in hindi से जुडी सारी जानकारी जैसे की Backlink क्या है? Backlink कैसे बनाये? Dofollow Backlink और Nofollow Backlinks में क्या अंतर है? समझ गए होंगे और आपको यह पसंद भी आया होगा। और अब आपको कही और Backlink से जुडी जानकारी लेने की जरुरत नहीं है। अगर आपका कोई भी सुझाव हो या इस Article से सम्बंधित कोई भी समस्या हो तो आप हमें Comment जरूर करे, हमें आपकी मदद करके ख़ुशी होगी।
Thanks for Reading…….